उद्देश्य

            महाविद्यालय का उद्देश्य ऐसी युवा पीढ़ी का निर्मान है, जो हिन्दुत्वनिष्ठा एवं राष्ट्रभक्ति से ओतप्रोत हो। शारीरिक, प्राणिक, मानसिक, बौद्धिक एवं अध्यात्मिक दृष्टि से पूर्ण विकसित हो तथा जो जीवन की वर्तमान चुनौतियों का सामना सफ़लतापूर्ण कर सके और उसका जीवन ग्रामीण, वनवासी, गिरि कन्दराओं एवं झुग्गी-झोपड़ियों में निवास करने वाले दीन-दुखी अभावग्रस्त अपने बंधुओं को सामाजिक कुरीतियों, शोषण एवं अन्याय से मुक्त कराकर राष्ट्र जीवन को समरस , सुसम्पन्न एवं सुसंस्कृत बनाने के लिए समर्पित हो।